Sunday, 13 July 2014

ये शक्तिशाली कुंजिका मंत्र है इस मंत्र की सिद्धि से 6 कर्म सिद्ध होते है

ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुंडायै विच्यै ओम ग्लौं हूँ क्लीं जूँ स: ज्वाल्य ज्वाल्य ज्वल् ज्वल् प्रज्वल प्रज्वल ऐं ह्रीं क्लीं चामुंडायै विच्यै ज्वल् हँ सं लं क्षं फट् स्वाहा !!

ये शक्तिशाली कुंजिका मंत्र है इस मंत्र की सिद्धि से 6 कर्म सिद्ध होते है इसका प्रभाव कुछ ही दिन के जाप करने से प्रगट होने लगता है। जो लोग माँ दुर्गा या काली कीउपासना करते हैं उनको इस मंत्र का तुरंत असर मिलता है हर मनो कामना की सिद्धि होती है

इस के साथ यदि 15 का यंत्र भी धारण् किया जाये तो शत्रु नाश होकर कार्य सिद्ध होता है। भगवान शिव ने स्वयम् इस मंत्र की प्रशंशा की है।

ओर इस समय गुप्त नवरात्र का काल चल रहा है तो आधिक प्रभाव आपको मिल सकता है। जाप केवल हर रोज 5माला का करे ओर प्रभाव देखे !! जै शंकर

No comments:

Post a Comment